मेन्यू बंद करे

परवर्ती संत और उनके पंथ

परवर्ती संत कौन थे और उनके पंथ क्या थे?

परवर्ती संत के नाम और उनके पंथ- जम्भनाथ का विश्नोई सम्प्रदाय, नानकपंथ, सिंगापंथ, दादूपंथ, निरंजनी संप्रदाय, मलूकदासी पंथ, सतनामी पंथ, सुन्दरदास, सहजोबाई, पलटूदास, आदि ।

इनसब सवालों के जवाब हम आपको देगे सभी संतों के नाम और जिस पंथ का निर्माण उन्होंने किया ।

कबीर दास द्वारा फैलाई आत्मसम्मान की किरण पुरे उत्तर भारत में फैल गयी ।

कबीर के समसायिक संतो में सेन, पीपा, रैदास, धन्ना, आदि के अलग-अलग पंथ बताये जाते है ; पर वे मूलतः कबीर पंथ से प्रभावित हैं ।

कबीर की व्याप्ति में सभी समाहित हो जाते हैं, यधपि प्रत्येक की अपनी विशेषताएँ भी हैं ।

पर कबीर की प्रखर प्रतिभा और आग किसी अन्य में नहीं पायी जाती ।

हिंदी के चिह्नों का उपयोग भी जाने ।

अपनी प्रतिक्रिया दे...

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: