मेन्यू बंद करे

Category: कहानी समीक्षा

गैंग्रीन / रोज़ कहानी – अज्ञेय की समीक्षा और पात्र परिचय

गैंग्रीन / रोज़ कहानी का उद्देश्य एक युवती मालती के यांत्रिक वैवाहिक जीवन के माध्यम से नारी जीवन और उसके सीमित घरेलू परिवेश में बीतते…

दुलाई वाली कहानी – राजेन्द्रबाला घोष की समीक्षा और पात्र परिचय

दुलाई वाली कहानी को हिंदी की प्रथम मौलिक कहानी माना गया है। दुलाई वाली वर्ष 1907 में सरस्वती पत्रिका में प्रकाशित हुई। स्थानीयपन, यथार्थ और…

कानों में कंगना कहानी – राधिकारमण प्रसाद सिंह की समीक्षा और पात्र परिचय

“कानों में कंगना” वर्ष 1913 में “इंदु” में प्रकाशित हुई। यह एक मार्मिक कहानी है। मनुष्य के विवेक को जागृत करने वाले स्थलों का सूक्ष्म…

चंद्रदेव से मेरी बातें कहानी – राजेन्द्र बाला घोष की समीक्षा और पात्र परिचय

चंद्रदेव से मेरी बातें कहानी वर्ष 1904 में सरस्वती पत्रिका में प्रकाशित हुई थी। हिंदी साहित्य में नारी आधुनिकता की शुरुआत करने वाली पहली लेखिका…

देवरानी-जेठानी की कहानी – पंडित गौरीदत्त की समीक्षा और पात्र परिचय

यहाँ हम देवरानी-जेठानी की कहानी (1870) पंडित गौरीदत्त द्वारा लिखित की समीक्षा और उसके सार की चर्चा करेंगे। इस उपन्यास को हिंदी का प्रथम उपन्यास…